Tuesday, April 24, 2018

भारत के 5 सबसे अमीर मंदिर (Top 5 Richest Temple of India)


1.
पद्मनाभ स्वामी मंदिर, त्रिवेंद्रम
पद्मनाभस्वामी मंदिर भारत की सबसे अमीर मंदिर है।   यह तिरुवनंतपुरम् (त्रिवेंद्रम) शहर के बीच स्थित है।  तिरुवनंतपुरम् केरल की राजधानी है। इस मंदिर की देखभाल त्रावणकोर के पूर्व शाही परिवार द्वारा की जाती है।  मंदिर की कुल एक लाख करो़ड की संपत्ति है। मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति विराजमान है जिसे देखने के लिए हजारों भक्त दूर दूर से यहां आते हैं।




2.
तिरूपति बालाजी का मंदिर, आंध्रप्रदेश
तिरूपति बालाजी का मंदिर आंध्रप्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित है। पुराना मंदिर है जो की 2800 फिट की ऊंचाई पर है यह मंदिर ध्रप्रदेश के चित्तूर जिले में उपस्थित है तिरूपति बालाजी का मंदिर सात पहाड़ियों को मिलकर बनाया गया है भगवान वेंकटश्वर को विष्णुजी का अवतार माना जाता है। दिर की कुल संपत्ति 50,000 करोड़ है।




3.
वैष्णो देवी मंदिर, जम्मू
भारत में हिन्दूओं का पवित्र तीर्थस्थल वैष्णो देवी मंदिर है जो त्रिकुटा हिल्स में कटरा नामक जगह पर 1700 मी. की ऊंचाई पर स्थित है। जहा भक्त अपनी मन्नत मांगते है माता अपने भक्तो की पोकर बहुत जल्द सुनती है और इस मंदिर में हर साल 500 करोड़ का चढ़ावा चढ़ता है यह मंदिर शक्ति माता वैष्णो देवी को समर्पित है। मंदिर में हर साल करीब 8 लाख श्रद्धालु आते हैं। 

4. सोमनाथ मंदिर, गुजरात
सोमनाथ एक महत्वपूर्ण हिन्दू मंदिर है जिसकी गिनती 12 ज्योतिर्लिंगों में प्रथम ज्योतिर्लिंग के रूप में होती है।  यह मंदिर गुजरात के पश्चिमी तट के क्षेत्र में स्थित है और भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर को १७ बार नष्ट किया है और हर बार इसका फिर से निर्माण किया जाता है सोमनाथ में हर साल करोड़ों को चढ़ावा आता है। इसलिए ये भारत के अमीर मंदिरों में से एक है।





5.
काशी विश्वनाथ मंदिर, वाराणसी
काशी विश्वनाथ मंदिर बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। यह मंदिर वाराणसी में स्थित है। यह माना जाता है कि कोई इस मंदिर पर जाकर गंगा नदी में स्नान करके मोक्ष के मार्ग पर जा सकता है। मंदिर को 1000 कि.ग्रा सोने से 1853 में कोट करवाया गया था  काशी विश्वनाथ भी भारत के अमीर मंदिरों में से एक है। यहां हर साल करोड़ों का चढ़ावा आता है।


0 Please Share a Your Opinion.

Post a Comment