Monday, April 23, 2018

भारत के 5 सबसे अमीर मंदिर (Top 5 Richest Temple of India)


1.
पद्मनाभ स्वामी मंदिर, त्रिवेंद्रम
पद्मनाभस्वामी मंदिर भारत की सबसे अमीर मंदिर है।   यह तिरुवनंतपुरम् (त्रिवेंद्रम) शहर के बीच स्थित है।  तिरुवनंतपुरम् केरल की राजधानी है। इस मंदिर की देखभाल त्रावणकोर के पूर्व शाही परिवार द्वारा की जाती है।  मंदिर की कुल एक लाख करो़ड की संपत्ति है। मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति विराजमान है जिसे देखने के लिए हजारों भक्त दूर दूर से यहां आते हैं।




2.
तिरूपति बालाजी का मंदिर, आंध्रप्रदेश
तिरूपति बालाजी का मंदिर आंध्रप्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित है। पुराना मंदिर है जो की 2800 फिट की ऊंचाई पर है यह मंदिर ध्रप्रदेश के चित्तूर जिले में उपस्थित है तिरूपति बालाजी का मंदिर सात पहाड़ियों को मिलकर बनाया गया है भगवान वेंकटश्वर को विष्णुजी का अवतार माना जाता है। दिर की कुल संपत्ति 50,000 करोड़ है।




3.
वैष्णो देवी मंदिर, जम्मू
भारत में हिन्दूओं का पवित्र तीर्थस्थल वैष्णो देवी मंदिर है जो त्रिकुटा हिल्स में कटरा नामक जगह पर 1700 मी. की ऊंचाई पर स्थित है। जहा भक्त अपनी मन्नत मांगते है माता अपने भक्तो की पोकर बहुत जल्द सुनती है और इस मंदिर में हर साल 500 करोड़ का चढ़ावा चढ़ता है यह मंदिर शक्ति माता वैष्णो देवी को समर्पित है। मंदिर में हर साल करीब 8 लाख श्रद्धालु आते हैं। 

4. सोमनाथ मंदिर, गुजरात
सोमनाथ एक महत्वपूर्ण हिन्दू मंदिर है जिसकी गिनती 12 ज्योतिर्लिंगों में प्रथम ज्योतिर्लिंग के रूप में होती है।  यह मंदिर गुजरात के पश्चिमी तट के क्षेत्र में स्थित है और भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर को १७ बार नष्ट किया है और हर बार इसका फिर से निर्माण किया जाता है सोमनाथ में हर साल करोड़ों को चढ़ावा आता है। इसलिए ये भारत के अमीर मंदिरों में से एक है।





5.
काशी विश्वनाथ मंदिर, वाराणसी
काशी विश्वनाथ मंदिर बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। यह मंदिर वाराणसी में स्थित है। यह माना जाता है कि कोई इस मंदिर पर जाकर गंगा नदी में स्नान करके मोक्ष के मार्ग पर जा सकता है। मंदिर को 1000 कि.ग्रा सोने से 1853 में कोट करवाया गया था  काशी विश्वनाथ भी भारत के अमीर मंदिरों में से एक है। यहां हर साल करोड़ों का चढ़ावा आता है।


Monday, April 16, 2018

शारीरिक संबंधो को लेकर दुनिया के सबसे अजीब कानून

दुनिया में हर देश में शारीरिक संबंधो को अलग - अलग नजरो से देखा जाता है कुछ देश में बहुत खुले विचार होते है इस विषय में और कुछ देशो में पब्लिक जगह आप नाम भी नहीं ले सकते।  आज मै आप को शारीरिक संबंधो  में अलग अलग कानून बतात हु अलग अलग देश का जिसे सुन कर आप शायद हसने लगेंगे।


1 -.अमेरिका के ऑहियो राज्य के ऑक्सफ़ोर्ड प्रान्त में किसी भी महिला का किसी पुरुष के  तस्वीर के सामने कपड़े उतरना गैर-क़ानूनी है|




2 - चीन में कोई भी महिला किसी होटल के कमरे में अपने पुरे कपड़े नहीं उतार सकती| ये वहा बहुत बड़ा अपराध है|


3 -लेबनान में पुरुषो जानवर के सांथ सम्बन्ध बना सकते है  बस वह जानवर फीमेल होना चाहिए।




4 - अमेरिका के वाशिंगटन में किसी भी वर्जिन लड़की के साथ सम्बन्ध बनाना गैर-क़ानूनी है फिर चाहे वह शादी के बाद की पहली रात ही क्यों न हो|


5 - अमेरिका के वेस्टर्न पसिफ़िक में कुछ पुरुषो की यही जॉब मिला है की वो  पुरे राज्य में घुमे और वर्जिन लड़कियों का कौमार्य भंग करे|




6 - अमेरिका के फ्लोरिडा में पुरुषो को पत्नी के सीने पर किस करने की इजाज़त नहीं है| ये एक गुनाह  है।




7 - अमेरिका के नेवादा में बिना कंडोम शारीरिक सम्बन्ध बनाना गैर-क़ानूनी है|





8 -.इंग्लैंड के लिवरपूल में टॉपलेस सेल्स वीमेन को काम करने की इजाज़त है|



Sunday, April 15, 2018

रकुल प्रीत सिंह ने इस क्रिकेटर को दिया शादी का आॅफर, जानिए कौन हैं यह क्रिकेटर




साउथ की  सबसे खूबसूरत और लोकप्रिय अभिनेत्री प्रीत सिंह जिन्होंने अपने  अभिनय से सबको दिखा दिया है की वो अभिनय में किसी से कम नहीं है प्रीत सिंह वैसे तो साऊथ की अभिनेत्री है मगर वो बॉलीवुड में भी काम क्र चुकी है।  रकुल प्रीत सिंह कि लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि बाॅलीवुड और साउथ सिनेमा के कई निर्देशक उन्हें अपनी फिल्मों में काॅस्ट करना चाहते हैं।





आपको बता दें कि 27 साल कि रकुल प्रीत सिंह का जन्म 10 अक्टूबर 1990 को दिल्ली में हुआ था। उन्होंने अपने अभिनय करियर कि शुरूआत साल 2009 में रिलीज हुई कन्नड़ फिल्म "गिल्ली" से किया था। इस फिल्म कि सफलता के बाद उन्होंने अपने आठ साल के फिल्मी करियर में  ​22 फिल्मों में अभिनय किया हैं। वैसे तो प्रीत अक्सर अपनी फिल्मों और खूबसूरती को लेकर चर्चा में रहती हैं। लेकिन रकुल प्रीत इन दिनों अपने हाल ही में दिए गए इंटरव्यू को लेकर काफि चर्चा में हैं।

फिल्मी दुनिया की 4 सबसे गोरी अभिनेत्रियां नंबर 1 है सबसे गोरी, क्लिक कर देखें तस्वीरें






एक इंटरव्यू के दौरान रकुल प्रीत सिंह ने यह बताया कि वे क्रिकेटर हार्दिक पण्ड्या की बल्लेबाजी को वो बेहद पसंद करती हैं। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहते हुए बताया कि वो हार्दिक पण्ड्या से प्यार भी करती है और यदि हार्दिक पण्ड्या चाहे तो वे उनसे शादी करने के लिए भी राजी है। यह तो सभी जानते है कि हार्दिक पण्ड्या भारत के लोकप्रिय और पसंदीदा क्रिकेटर माने जाते हैं। हालांकि अब  हार्दिक पण्ड्या ने इसपर कोई जवाब नहीं दिया है। ये देखना बहुत मजेदार  होगा की हार्दिक इसपे क्या जवाब देते है 

Friday, April 13, 2018

भारत में यहाँ मौज़ूद है भगवान शिव का रहस्य्मयी संसार


भारत में एक ऐसी जगह जहाँ पहाड़ो पर 1 कम 1 करोड़ हिन्दू देवी देवताओ की मुर्तिया बनी है और ऐसे किसने बनाया ये कोई नहीं जानता।  त्रिपुरा की राजधानी अगरतला से 170 किलो मीटर दूर उनाकोटी जो नदी छील और पहाड़ो से घिरी है उनाकोटि एक पहाड़ी इलाका है जो दूर-दूर तक घने जंगलों और दलदली इलाकों से भरा है। उनाकोटि लंबे समय से शोध का बड़ा विषय बना हुआ है, क्योंकि इस तरह जंगल की बीच जहां आसपास कोई बसावट नहीं एक साथ इतनी मूर्तियों का निर्माण कैसे संभव हो पाया।



उनाकोटि में पहाड़ों की चट्टानों पर बनाए गए नक्काशी के शिल्प और पत्थर की मूर्तियां हैं।जिसका आधार भगवान शिव और गणेश जी हैं। 30 फुट ऊंचे शिव की विशालतम छवि खड़ी चट्टान पर उकेरी गई है, जिसे ‘उनाकोटिस्वर काल भैरव’ कहा जाता है। इसके सिर को 10 फीट तक के लंबे बालों के रूप में उकेरा गया है। इसी के पास शेर पर सवार माता देवी दुर्गा का शिल्प चट्टान पर उकेरी हुई है, वहां दूसरी तरफ मकर पर सवार देवी गंगा का शिल्प भी है। यहां नंदी बैल की जमीन पर आधी उकेरे हुए शिल्प भी हैं।जो शिल्पकला के लिहाज से अद्भुत है।


यहां पर भगवान गणेश की तीन सबसे अलग मुर्तिया है  चार-भुजाओं वाले गणेशजी की दुर्लभ नक्काशी के एक तरफ तीन दांत वाले साराभुजा गणेश और चार दांत वाले अष्टभुजा गणेशजी की दो मूर्तियां बनी हुई हैं


आसपास के लोग यहां आकर इन मूर्तियों की पूजा भी करते हैं। यहां हर साल अप्रैल महीने के दौरान अशोकाष्टमी मेले का आयोजन किया जाता है। जिसमें शामिल होने के लिए दूर-दूर से हजारों श्रद्धालु यहां आते हैं। इसके अलाव यहां जनवरी के महीने में एक और छोटे त्योहार का आयोजन किया जाता है।