728x90 AdSpace

Thursday, 9 May 2019

सैम पित्रोदा: 1984 में जो हुआ था वो हुआ था, उसकी क्या बात करनी अभी की बात करो


1984 में दिल्ली में हजारों सिखों का नरसंहार किया गया था, कई दशक बीत गए पर सिखों को न्याय नहीं मिला, मोदी राज में न्याय की शुरुवात हुई और सज्जन कुमार नाम का कांग्रेस नेता और अपराधी अब जेल में है

लोकसभा के चुनाव हो रहे है, और एक कांग्रेस नेता को इस बात पर काफी आपत्ति है की 1984 की बात क्यों की जा रही है, सिखों का नरसंहार हुआ तो हुआ अब उसकी क्या बात करनी

नरेंद्र मोदी कांग्रेस के कारनामो को गिनवाते है जिसमे 1984 का सिख नरसंहार भी शामिल है, इस नरसंहार को स्वयं राजीव गाँधी ने अपने नेतृत्व में करवाया था
नरसंहार को जायज ठहराते हुए राजीव गाँधी ने खुले मंच से कहा था की “बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती ही है, इसमें क्या बड़ी चीज है”

मोदी चुनावी रैली में कांग्रेस के कारनामो की बात करते है, तो इसपर आज राहुल गाँधी के राजनितिक गुरु सैम पित्रोदा काफी भड़क गए और उन्होंने जो बात कही वो आप स्वयं देखिये


सैम पित्रोदा ने कहा की – अब ये 1984 क्या है, 1984 की बात छोड़ो अभी की बात करो, 1984 में जो हुआ था वो हुआ था, उसकी क्या बात करनी अभी की बात करो
सैम पित्रोदा: 1984 में जो हुआ था वो हुआ था, उसकी क्या बात करनी अभी की बात करो Reviewed by desi trend on May 09, 2019 Rating: 5 1984 में दिल्ली में हजारों सिखों का नरसंहार किया गया था, कई दशक बीत गए पर सिखों को न्याय नहीं मिला, मोदी राज में न्याय की शुरुवात हुई और सज्...

No comments: